अभिलेख

सरस्वती शिशु मंदिर सारंगपुर में दिनांक 2 जुलाई सन 984 को शाजापुर जिले के महंत स्वामी विद्यानन्द जी महारा के करकमलों द्वारा कालीसिंध नदी के तट पर स्थित बजरंग व्यायाम…

Continue Reading अभिलेख

प्राचार्य की कलम से

प्राचार्य की कलम से हमारा साहित्य, समाज को प्रेरणा देने वाला है। साहित्य और समाज एक दूजे के पूरक हैं। भविष्य में भी भारतीय साहित्य विश्व पटल पर अपने अपने…

Continue Reading प्राचार्य की कलम से